Top

You Searched For "pakistan"

  • कौन और कैसे सुलझाए कश्मीर मुद्दा?

    जब भी कश्मीर में किसी हमले या जवान के शहीद होने की बात आती है तो कुछ सवाल खड़े होते हैं-सवाल कि क्या आज तक किसी सरकार ने कश्मीर मसले को हल करने के लिए कोई रणनीति बनाई है या सरकार ने सेना को बिना किसी रणनीति के, शहीद होने के लिए छोड़ दिया है? क्या कश्मीर का मुद्दा चंद दिनों में सुलझाया जा सकता है या क...

  • नोटबंदी : जाली नोटों का सूत्राधार कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व ?

    दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला खुलेगा 2019 के बाद, जो शायद दुनिया मे कहीं नहीं हुआ होगा और इस महाघोटाले का मुख्य अभियुक्त है चिदंबरम !! इसको पढ़िए की क्यों किया गया अचानक नोटबन्दी का फैसला और क्यों टूट गयी पाकिस्तान की अर्थव्यस्था। सबूत भी बाहर आएंगे जांच हो रही है इसको पढ़ के आपके पैर के नीचे से ज़मीन खिसक ...

  • जैश सरगना मसूद अजहर वैश्विक आंतकी घोषित, भारत की सबसे बड़ी कूटनीतिक जीत

    संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अंतत: मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया है। जी हाँ, चीन द्वारा बाधा डालने के अथक प्रयास के बावजूद भी आज भारत को एक विशाल कूटनीतिक जीत मिली। चीन ने मसूद अज़हर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करने में जो टेक्निकल होल्ड लगाया था आज उसको वह हटाना पड़ा। Syed...

  • 15 अगस्त: स्वतन्त्रता की खुशी या बँटवारे का दर्द?

    15 अगस्त 1947 भारत की आजादी का दिन था. हमें आजादी मिली, उस खुशी को आज भी हम हर साल आजादी के दिन के रूप में मनातें हैं पर इस खुशी को मनाते हुये हममें से कितने लोग हैं जिनके मन में कोई वेदना होती है, कोई पीड़ा होती है? किसी का भी स्वाभाविक प्रश्न होगा कि आजादी के दिन कोई वेदना या कोई पीड़ा क्यों हो? पर...

  • कैसा जश्न? कैसी स्वतंत्रता? 15 अगस्त 1947!

    असली जायज़ जश्न होता है 14 अगस्त को पाकिस्तान में। हाँ, उन्होंने पाकिस्तान को भारत से छीना था, 14 अगस्त 1947 को। सामूहिक भारत की कुल 20 % आवादी ने भारत का 35 से 40 प्रतिशत हिस्सा भारत से छीन लिया था..उनके पास जिन्ना था। हमारे पास हिजड़े थे... 50 लाख सनातन हत्याएं हुईं (नरेंद्र कोहली के शब्दों में) ला...

  • भारत का आखिरी विभाजन और रक्तचरित्रों की रक्तरेखा! रक्तरंजित विभाजन के कौन थे पेरोकार ?

    भारत पाकिस्तान की भौगोलिक सीमारेखा है रेडक्लिफ! यह रेखा दरअसल इस्लामिक दंभ की सुवर्णरेखा है। यह रेखा वह जीवनदायिनी शक्ति है जिसके बल पर जुल्फिकार और हाफिज सईद जैसे लोग हिन्दुस्तान से हजार वर्ष तक चलने वाले जंग का ऐलान कर सकते हैं। यह रेखा परछाईं है शरणार्थी हिन्दुस्तानी औरतों की देह को बलत्कृत करते द...

  • सर्जिकल स्ट्राइक: सेना का शौर्य बनाम राजनीतिक आखाड़ा

    जिन्हें सरहदों से आते ताबूत नहीं दिखते, उन्हें वीडियो भी नहीं दिखेगा। सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो पब्लिक डोमेन में डाला गया है, देश-भर में देखा गया, विदेशों में भी। सेना से यह वीडियो माँगा गया होगा या फ़िर मज़बूर होकर सेना ने ही दे दिया होगा। सेना करे भी तो क्या, वह एक ऐसे मज़बूर देश की सेना है, जिसके ...

  • मज़हब है सिखाता आपस में बैर रखना: मदीने से आज तक

    पिछले चार सालों में कई बार हम कुछ कल्पनायें करके आनंदित होते रहें हैं कि एक दिन हम बलूचिस्तान को तोड़ देंगें, फिर ये भी कल्पना उभरी कि एक अलग सिंधु देश भी बन रहा है और एक ने तो अति-उत्साह में ये कह दिया कि हम अगले साल पी०ओ०के० में तिरंगा फहराएंगें। 'अज्ञानता के आनंदलोक' में विचरण कर रहे इन लोगों को ...

  • जम्मू कश्मीर : भय बिनु होइ न प्रीत

    महाभारत के 18 पर्वों में से 12वां पर्व 'शांतिपर्व' है। यह 'शांतिपर्व' राजधर्म और आपदधर्म के निर्वाह से सम्बंधित है। दिसम्बर 2014 से भारतीय जनता पार्टी जम्मू-कश्मीर में 'शांतिपर्व' का निर्वाह कर रही थी, क्योंकि उसने इसको अपना 'आपदधर्म' मान लिया था! आज वह पर्व समाप्त हुआ। अब 13वें पर्व 'अनुशासनपर्व' ...

  • मोदी जी : "कांग्रेस वाली तुष्टीकरण" की राह छोड़नी होगी

    अगर माननीय प्रधानमंत्री महोदय वर्ष 2019 के लोकसभा चुनावों में विजयश्री का वरण करना चाहते हैं तो अख़बारों में तरक़्क़ी के इश्तेहार निकालने के बजाय उन्हें एक संकल्प लेना होगा। प्रधानमंत्री को संकल्प लेना होगा कि मुझे 'आतंकवाद' के वोट नहीं चाहिए, इसलिए मुझे येन केन प्रकारेण 'आतंकवाद' को प्रसन्न करने...

  • शिकारी और शिकार

    बब्बर शेर जब शिकार करते है तब झुण्ड में चलते हैं। उनके शिकार अमूमन बड़े शाकाहारी प्राणी होते हैं। जब वे किसी शिकार प्रजाति का झुण्ड देखते हैं तो तुरंत हमला नहीं करते। शेरों की टोली के सदस्य एक योजनाबद्ध तरीके से जाल बिछाते हैं, और जब सारी तैय्यारी हो जाती है तब एक शेर अचानक उठ ...

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुसार विदेश नीति पाक पर आधारित होने की धारणा गलत है

    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि यह धारणा गलत है कि देश की विदेश नीति पाकिस्तान पर आधारित है। श्री मोदी ने एक निजी चैनल को दिये साक्षात्कार में कहा है कि यह सोचना कि भारत की विदेश नीति सिर्फ पाकिस्तान पर आधारित है, भारत के साथ घोर अन्याय करने जैसा...

Share it